क्या टीवी चैनल्स भी बंद हो जाएंगे?

एक ज़माना था जब हमें सूचनाओं के लिए सिर्फ रेडियो या अखबारों पर ही निर्भर रहना पड़ता था / खास तौर पर 19 80 के पहले ; आप याद करिए हम तक लाइव कवरेज देने का एकमात्र साधन रेडियो ही था / कैसे क्रिकेट के स्कोर को जानने के लिए हम रेडियों को कान से चिपकाये रहते थे ?

खैर जो इन्टरनेट के युग में आ गया हो तो उसे ये बात समझ में न भी आये तो ज़रा सोचिये/ वे जब दूरदर्शन बड़े चाव से देखते थे तो क्या उसी चाव से आज देखते है नही न !

आखिर क्यों ? भई हमारे पास आज कई चैनल्स है जो मनोरंजन और ज्ञान का खजाना है /

आप में से कुछ लोग सोच रहें होंगे कि आखिर मै कहना क्या चाहता हूँ ?

दरअसल ! मै जो कहना चाहता उसे चंद लाईन में समझ लीजिये

जैसे दूरदर्शन के आते ही रेडियो का क्रेज बंद हो गया ! फिर दुनिया भर चैनल्स के आते ही दूरदर्शन देखने का शौक बंद हो गया (क्योकिं कर गाने, धारावाहिक वाले चैनल्स आ गए जो सूचना, ज्ञान और मनोरंजन से भरपूर थे )

इस बीच ! साफ़ आवाज़ और तस्वीर वाली टीवी आ गई जिसे सबसे पहले टाटा स्काई ने शुरू किया बाद में एयर तेल, विडिओ कोन इत्यादि भी इसी में कूड़े तो टाटा स्काई की चमक कुछ कम हुई

फिर इन्टरनेट का विकास होते ही you tube ने तहलका मचा दिया

अब ज़माना है विडिओ स्ट्रीमिंग का मुझे डर है विडिओ स्ट्रीमिंग के जोर पकड़ते ही कहीं  सारे चैनल्स को अपना धंधा न बंद करना पड़े ( जैसे मोबाइल आते ही एसटीडी, पीसीओ का धंधा बंद हो गया) और जिओ ने तो सारे मोबाइल इन्टरनेट को ही सोचने पर मजबूर कर दिया है /

खैर ! विडिओ स्ट्रीमिंग को लेकर ही आपसे चर्चा करना चाहता हूँ /

क्या है ये विडिओ स्ट्रीमिंग

जैसे आप आप hotstar , youtube और amazon prime को तो जानते ही होंगे ये सब वीडियो स्ट्रीमिंग के ही उदाहरण है / अब सवाल ये उठता है की

टीवी देखने के लिए आपको सेटअप बॉक्स चाहिए, टीवी स्क्रीन (मॉनिटर )चाहिए रिमोट भी ज़रूरत पड़ती है (पहले तो उठकर चैनल बदलते थे –आज कल ये  बंद हो गया है )

आपको विडिओ स्ट्रीमिंग के लिए सिर्फ एक इन्टरनेट कनेक्शन चाहिए और इसे आप अपने लैपटॉप , मोबाइल या कंप्यूटर पर कही भी देख सकते है /

अब subscription क्या है ?

दूसरी चीज़ होगी वह है सब्सक्रिप्शन ( यानि पैसा ) टीवी देखने के लिए टीवी वाले को पैसा देना पड़ता है सिनेमा देखने के लिए थिएटर वाले को पैसा देना पड़ता है / – और उनके विज्ञापनों को झेलना पड़ता है मगर यहाँ जो पैसा देंगे वो वाई फाई / डाटा का ही होगा /

विडिओ स्ट्रीमिंग में विज्ञापन नही होते है हालाँकि youtube में कुछ विज्ञापन ज़रूर आते है मगर skip add वाले आप्शन पर क्लिक करके इससे भी छुटकारा आप पा सकते है /

स्ट्रीमिंग के और क्या फायदे क्या है ?

  1. आप जब चाहे तब अपनी मन चाही फिल्म या विडिओ देख सकते है यानी सिनेमा हाल की तरह आपको समय पर पहुचने का झंझट नही है / न ही टाइम पर टीवी चालू करने जैसा कोई प्रॉब्लम आयेगा / बिजली चली गयी तो जब आएगी तब देख लेंगे ( बैटरी तो रहती ही है , जब तो चले तब तक देख ही सकते है )
  2. विडिओ का कोई हिस्सा अगर आपको न देखना हो तो (जैसे बोरिंग scene या गाना ) तो आगे बड सकते है
  3. डाउन लोड कर विडिओ को एक प्लेटफार्म से दुसरे प्लेटफार्म में ले जा सकते है /
  4. अपने हिसाब से एडिट कर सकते है ( मगर डाउन लोड करना होगा ) कुछ कुछ विडिओ में ये आप्शन बना दिया जाता है कि आप डाउन लोड न कर सके आपने ये youtube में ये देखा या महसूस किया होगा /

अब बात करते है आजकल सबसे ज्यादा जोर है स्ट्रीमिंग वाले विडिओ में वह है  “Originals” का!

अब ये Originals क्या है ?

विडिओ फिल्म दिखने के दो साधन हो सकते है जो आप तक पहुचते है

पहला ये कि बनी बनायीं चीजों को कही से खरीद कर आपको दिखाए जैसे फिल्म “octorber” इस फिल्म को सुजीत सरकार ने सिनेमा हाल में दिखने के लिए बनायीं थी , मगर अमेज़न prime ने इसे खरीद लिया और अपने यहाँ से दिखाना शुरू कर दिया , तो अब ये फिल्म अमेज़न prime पर आपको देखने को मिलेगी /

बस्तरिया बियर

यह एक प्रकार का मादक पेय है जिसे आम भाषा में ताड़ी भी कहते है आदिवासियों जीवन में सल्फी मादक पेय ही नहीं बल्कि सामाजिकता का प्रतीक भी है जानते है क्या खूबियां है इस पेय में

इस कारण से चित्रकोट जलप्रपात सूख गया

जानिए क्या कारण है चित्रकोट जल प्रपात सूख गया है चंद दिनांे में ही चित्रकोट में पानी देखने को
मिला ठीक वैसे ही जैसे यह आमतौर पर देखने को मिलता है। बस्तर के नियाग्रा फाल समझे जाने वाले इस चित्रकोट
जलप्रपात में हर साल काफी संख्या में पर्यटक आते है । इस बार पर्यटकों के साथ पर्यावरण प्रेमी भी चित्रकोट फाॅल के
इस रूप पर अचंभित थे जानिए क्या है वें
क्लिक कीजिए।

जानिए क्या कारण है चित्रकोट जल प्रपात सूख गया है चंद दिनांे में ही चित्रकोट में पानी देखने को
मिला ठीक वैसे ही जैसे यह आमतौर पर देखने को मिलता है। बस्तर के नियाग्रा फाल समझे जाने वाले इस चित्रकोट
जलप्रपात में हर साल काफी संख्या में पर्यटक आते है । इस बार पर्यटकों के साथ पर्यावरण प्रेमी भी चित्रकोट फाॅल के
इस रूप पर अचंभित थे जानिए क्या है वें

Play School
Spoken English Classes
previous arrow
next arrow
Slider

इसी तरह Game of thrones को HBO के लिए बनाया गया था मगर “हॉट स्टार”  ने इसे खरीद लिया और दिखाने लगा /

फिर विडिओ स्ट्रीमिंग वाले प्लेटफार्म ने खुद ही फिल्म बनाना शुरू कर दिया जैसे “नेट फ्लिक्स” का House of Card नेटफ्लिक्स का अपना फिल्म है जिसे इसने खुद बनाया और अपने प्लेटफार्म में दिखाना शुरू कर दिया , इसने इसे कहीं से ख़रीदा नही और न ही किसी ने इसे थियेटर या टीवी चैनल के लिए बनाया था/

तो – आप समझ गए होंगे कि विडिओ स्ट्रीमिंग की दुनिया में original किसे कहते है /

 

 

 

 

 

 

Please follow and like us:
error20

Hits: 212

Author: adji

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.