चिनाब पुल बनेगा सबसे ऊॅंचा पुल

चिनाब पुल बनेगा सबसे ऊॅंचा पुल

सबसे बड़ी मूर्ति स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के बाद भारत में अब एक सबसे ऊॅंचा पुल बनने को तैयार हो रहा है। इसकी ऊॅचाई नदी के तल 359 मीटर है । सन 2004 में पूर्व प्रधान मंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने इसकी नींव रखी थी । इस पुल का सबसे लम्बे खम्बे की ऊॅंचाई 340 मीटर है ।

कहां है यह पुल :

इस पुल का निर्माण जम्मू कश्मीर में चिनाब नदी पर किया जा रहा है। और साल के अंत तक इसका निर्माण कार्य पूरा हो जाएगा। यह पुल रियासी जिले में बक्कल और कौड़ी के बीच बनाया जा रहा है।

 

क्या फायदा होगा ?

111 किमी लंबे कटरा और बनिहाल मार्ग पर रेल ब्रिज बनने से कश्मीर रेलमार्ग के जरिए यह अन्य हिस्सों से जुड़ जाएगा फिलहाल बनिहाल और बारामूला के बीचे रेलवे लाईन ही है। और कटरा और बनिहाल के बीच नहीं है ।
हांलांकि यह क्षेत्र भूकंप जोन 4 में आता है इसलिए पुल को जोन 5 के अनुसार तैयार किया जा रहा है। यानि सहन कर सकता है।

क्या खास बात है इसमें

इस पुल को बनाने में मेहराब तकनीक का इस्तेमाल हुआ है। और यह 266 प्रतिघंटे से चलने वाली तेज हवा को भी सहन कर सकता है।
यह पुर ऑनलाईन मानीटरिंग एंड वार्निग सिस्टम से युक्त होगा। तथा इसके निर्माण में ब्लॉस्ट पू्रफ तकनीक का इस्तेमाल हुआ है।
यह पुल 17 केबल्स पर टिका होगा । तथा इसमें दो ट्रैक होंगें प्रत्येक की चौड़ाई 14 मीटर होगी। इसके अलावा निरीक्षण के लिए 1.2 मीटर चौड़ा एक रास्ता भी होगा ।
श्रीनगर बारमूला रेल लिंक परियोजना के तहत इसका निर्माण कोंकण रेल्वे ऊधमपुर कर रहा है। जिसकी इस साल के अंत तक पूरी हो जाने की उम्मीद है। फिलहाल नदी के ऊपर लगाया जाने वाला आर्च बनकर तैयार है। इस पुल के निर्माण में डीआरडीओ समेद देश के 15 बड़े संस्थान कोंकण रेल्वे की मदद कर रहें है। वर्तमान में दक्षिणी फ्रांस की तरन नदी पर बना पुल मलाउ वायडक्ट सबसे ऊॅंचा है इस पुल का सबसे ऊॅंचें खम्बा जिसकी ऊॅंचाई 340 मीटर है।
52 किमी रेल मार्ग में 17 टनल और 23 पुल आते है। यह प्रोजेक्ट 345 किमी लंबा है। दो लेन के इस पुल पर 5 हजार कर्मचारी पिछले चौदह सालों से काम कर रहें है। इस पुल की कुल लागत 1200 करोड़ रूपये है।

हर भारतीय को सबसे ऊचे मूर्ति के होने का गर्व है अब विश्व का सबसे ऊंचा पुल भी तैयार हो रहा है।

adji

2 thoughts on “चिनाब पुल बनेगा सबसे ऊॅंचा पुल

Leave a Reply

Your email address will not be published.