Leave a comment
 Continue Reading...
Posted in History

बस्तर इतिहास की एक झलक :

आदिवासी अपना मानसिक कष्ट प्रायरू अंतिम सीमा तक सहन करने…

 Leave a comment
 Continue Reading...
Posted in Education History

Emergency आपात काल 1975

आज से 44साल पहले साल 1975 में 26 जून की…

 Leave a comment
 Continue Reading...
Posted in Education History

डायनोसाॅर के बारे में

डायनोसाॅर के बारे में जितना खोज हो चुका है और…

 Leave a comment
 Continue Reading...
Posted in Education History Talks Thought

Story of River Indravati कहानी इंद्रावती नदी की

चित्रकोट अब केवल बरसाती प्रपात ही बन गया है । इस गर्मी में चित्रकोट की गायब हो गई तो पर्यावरण तथा पर्यटन प्रेमी का गुस्सा फूट पड़ा । और लगातार विरोध के बाद ही कुछ एनीकेट के कपाट खोले …..

 2 Comments
 Continue Reading...
Posted in Education History

इंद्रावती सूखने का कारण

पेड़ की जड़े मिट्टी को को एक स्पंज की तरह छेददार बना देती है। और जब बरसात होती है तो यह जड़े पानी को भी सोख लेती हैं और मिट्टी को थामे रखती हैं और साथ ही जानिए नदियां क्यों सूखती है। इन्हें किन उपायों को अपना कर बचा जा सकता है?

 Leave a comment
 Continue Reading...
Posted in Education History

स्टेचू ऑफ़ यूनिटी यानि एकता की मूरत

ये 1 80 किमी प्रतिघंटे की रफ़्तार से चलने वाली हवा को ये मूर्ती सहन कर सकती है तथा 12 किमी के परिधि में 6.5 रिएक्टर स्केल के भूकम्प जो  पृथ्वी के 10 किमी अंदर होंगे उसे ये सहन कर सकती है / इतना ही नही पिछले 100 वर्षों के बाड़ रिकॉर्ड को ध्यान में रखकर इसकी ऊंचाई बनाये गई है /

 3 Comments
 Continue Reading...
Posted in Education History

Mission Shakti मिशन शक्ति

हम दुनियां के उन बड़े देशों के श्रेणी में fourth नम्बर पर आ चुके है जिनके पास अपनी अंतरिक्ष को सुरक्षित रखने की नायाब ताकत है। उस ताकत का नाम मिशन शक्ति है।

 4 Comments
 Continue Reading...
Posted in Education History Thought

History of Indian Coins and Rupees

चन्द्रगुप्त मौर्य के जमाने में सोने और चांदी के सिक्के चला करते थे आज यह भले ही अविश्वसनीय लगे मगर आधुनिक भारत में सिक्कों का सफर भी कम दिलचस्प नहीं है।

 Leave a comment
 Continue Reading...
Posted in Education History

यूरोपिय ताकत की भारत में विस्तार

पुर्तगाल स्पेन से युद्ध हार गया जिसका सीधा प्रभाव भारतीय व्यापार पर भी पड़ा /और पुर्तगाली अब ब्राजील की तरफ ध्यान देने लग गए क्योंकि ब्राजील की खोज ने उन्हें एक नया बाज़ार दे दिया ,